“अमिताभ बच्चन मेरी प्रेरणा हैं”—मणि, फिल्म अभिनेता

Image

अमिताभ बच्चन मेरी प्रेरणा हैं—मणि, फिल्म अभिनेता

फिल्म अभिनेता मणि भारतीय फिल्म उद्योग में एक सुप्रसिद्ध अभिनेता हैं जो आज बहुत ही खुश व्यक्ति नजर आते हैं. इसका बडा कारण है, हाल ही में दरभंगा अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में उनकी बंगाली फिल्म ‘ निर्मोक ‘  में जिसमें उन्होंने मुख्य अभिनेता की भूमिका निभाई है को ‘सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार’ प्राप्त हुआ है. जिसके लिए उनको ‘सर्वश्रेष्ठ अभिनेता’ श्रेणी में भी नामांकित किया गया था.   

इस खबर पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मणि कहते हैं, “यह खबर मेरे लिए किसी बडे आश्च्रर्य से कम नहीं थी, बहुत खुशी की बात है. निर्मोक  की शूटिंग में हमने पुरुलिया (पश्चिम बंगाल) में बहुत मेहनत की और वहाँ सुंदर स्थानों में काम करके हमें मजा आया. यह एक टीमवर्क था जो फलित हुआ”

मणिजो एक बहुमुखी अभिनेता हैं, आसानी से किसी भी भूमिका का प्रदर्शन कर सकते हैं, वह दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन से प्रेरित हैं. मणि कहते हैं, “अमिताभ बच्चन साहब मेरी प्रेरणा हैं और मैं अपने दैनिक दिनचर्या कामों में उनके समर्पण , समय की पाबंदी , एकाग्रता और व्यावसायिकता के मामले में उनका अनुसरण करने की कोशिश करता हूं.”

मणि वर्तमान में दो दक्षिण भारतीय फिल्मों में काम कर रहे हैं, जो इस वर्ष रिलीज हो जाएंगी. मणिफिल्म निर्माता सत्यप्रकाश मंगतानी के साथ एक 3-डी हिंदी फिल्म में भी काम कर रहे हैं . मणि  हेमंत  शर्मा (संगीत निर्देशक मोंटी शर्मा के भाई) की फिल्म ‘ नीला’ में भी काम कर रहे हैं जो सलमान खान के ‘हिट एण्ड रन’ मामले से प्रेरित है. मणि फिल्म में सलमान खान की भूमिका अदां करेंगे. 

इन फिल्मों के अलावा मणि दो बंगाली फिल्में भी कर रहे हैं -विश्वजीत सरकार के साथ ‘ जैकेट’ और दिशारी प्रोडक्शंस के साथ ‘ विनायक-मुक्तिदाता’. हालांकि,  मणिएक दक्षिण भारतीय अभिनेता हैं लेकिन वह धाराप्रवाह बंगाली बोलते हैं. इस बारे में मणि कहते हैं, “मैं पैदा तो दक्षिण में हुआ, लेकिन मैं बचपन से ही कोलकाता रहा हूं, क्योंकि मेरे पिताजी कोलकाता में कमिश्नर के पद पर कार्यरत थे.”

मेरी शुरूआती पढाई-लिखाई कोलकाता में हुई, तो जाहिर है मैं उस शहर से अच्छी तरह परिचित हूं. मुझे पश्चिम बंगाल के साथ एक खास लगाव है, पश्चिम बंगाल की संस्कृति,  वहां के लोगों,  भाषा,  साहित्य,  स्थानों,  भोजन आदि सब से बचपन से ही मुझे बेहद प्यार है. हालांकि अभी तो मैं मुम्बई में रहता हूं लेकिन जब भी मैं कोलकाता – पश्चिम बंगाल जाता हूं, तो मैं वापस अपने बचपन के प्यार की तरंगों से घिर जाता हूं. यही कारण है कि मैं बंगाली फिल्मों भी काम कर रहा हूँ और आगे भी करता रहूंगा.

युवा मणि बहुत ही मिलनसार,परिश्रमी,अनुशासित,  हौसला आसमान में व पैर जमीन पर रखकर चलने वाले इंसान है. वह अपनी सभी आगामी फिल्मों के लिए अधिक से अधिक राज्य , राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार जीतना चाहते हैं. हम उन्हें उनकी सभी वर्तमान और भविष्य की योजनाओं के लिए शुभकामनाएं देते हैं.

ईश्वरपालसिंह यादव

Published on 18/06/2014

Modified on 16/06/2014

First wrote on 19/04/2014

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *